Share
विनय BACK

दोस्तों, जब भी हम कुछ प्राप्त करने, सफलता के शिखरों तक पहुँचने या जीवन में छोटे-बड़े प्रसंगों में आनंद प्राप्त करने का प्रयत्न करते हैं तब सफल एवं महान पुरुषों ने उनके जीवन में ऐसा तो क्या किया था? वह जानने का प्रयत्न करते हैं। उनके जीवन चरित्र को पढ़ने से हम उनकी सफलता की कुंजियों को जान पाते हैं। उनमें से एक कुंजी है - उनके द्वारा विकसित किए गए गुण। इन गुणों में से एक गुण है - "विनय," जिसके बारे में हम इस अंक में बात करेंगे। विनय अर्थात्‌ क्या? हमारे जीवन पर उसका क्या असर पड़ता है? और महान पुरुषों ने इस गुण को कैसे विकसित किया, वह जानेंगे। दादाश्री की दृष्टि में विनय अर्थात्‌ क्या? अविनय से विनय की ओर कैसे जा सकते हैं और अपने सपनों को पूरा करके आनंदपूर्वक जीने के लिए विनयी कैसे बन सकते हैं, यह जानेंगे, आनंद उठाएँगे और जीवन के हर एक मोड़ पर दादाश्री के बताए हुए रास्ते पर चलने का प्रयास करेंगे।